बिहार में भी कहर मचाएगा यास चक्रवात, चेतावनी जारी

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :- भारत मौसम विज्ञान विभाग, (आई0एम0डी0) भारत सरकार ने “YASS” चक्रवात के संबंध में बिहार के लिए भी चेतावनी जारी कर दी है। मौसम विभाग ने अपनी चेतावनी में कहा है कि बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र अब दबाव वाले क्षेत्र में बदल गया है और वह बहुत ही गंभीर चक्रवाती तूफान के रूप में 26 मई को पश्चिमी बंगाल तथा ओडिशा के तटों को पार करेगा।student lone buxar

तूफान अगले 24 घंटों के दौरान ही गंभीर चक्रवाती तूफान “YASS” में प्रर्वतित हो जाएगा। 26 मई की शाम तक इस गंभीर चक्रवाती तूफान के पारादीप और सागर द्वीप के बीच उतर ओडिशा एवं पश्चिम बंगाल को पार कर जाने की संभावना है। चक्रवात के कारण अधिकतम 155-165 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी। इस तेज चक्रवाती तूफान का असर उतर एवं पश्चिम की ओर उतरौतर होगा।

बिहार में इस तूफान का असर 27 मई से 30 मई तक रहने की चेतावनी जारी की गई है। इस दौरान तेज हवा के साथ तेज एवं हल्की बारिश, बिजली कड़कने-गिरने-चमकने जैसी घटनाएँ बिहार के बहुत सारे जिलों में हो सकती है। बिहार के मध्य एवं दक्षिणी इलाकों में 24 से 28 घंटों तक हल्की से तेज वर्षा संभावित है। इस बीच 27 मई एवं 28 मई को पूरे राज्य में बिजली कड़कने, चमकने एवं गिरने की घटना संभावित है।

इस दौरान वृक्षों के धराशयी होने, बिजली की आपूर्ति में बाधा पहुँचने के साथ निचले स्थालों में जलजमाव एवं बाढ़ जैसी स्थिति भी उत्पन्न हो सकती है। कम रोशनी के कारण फ्लाइट का आवागमन भी बाधित हो सकता है। अतएव “YASS” चक्रवात को देखते हुए जिला पदाधिकारी महोदय के द्वारा सभी जिलावासियों को अलर्ट करते हुए कहा गया है कि इस दौरान अपने-अपने घरों में ही रहें एवं सभी तरह के आवश्यक सावधानी को बरतें।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button