वैक्सीनेशन के लिए मचा बवाल, उमड़ी भीड़ से चरमराई व्यवस्था, काउंटर छोड़ भागे कर्मी

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ /चौसा :- प्रशासन द्वारा जिले को शत प्रतिशत वैक्सीनेट करने के लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्र में लोगों में वैक्सीनेशन के लिए उत्साह बढ़ा है। सेंटर पर प्राप्त वैक्सीन से अधिक लोग सुबह सात बजे से पहुचना प्रारम्भ कर दे रहे है।लोगो वैक्सीनेशन को ले जगरूकता इस कदर बढ़ गयी है।कि सारे काम धाम छोड़ बाहुबली बनने के लिए लोग वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंच सुबह सात बजे से ही लाइन लगांना प्रारम्भ कर दे रहे है।

med bed buxar copy
विज्ञापन

जिसके कारण सुबह दस बजे तक सेंटर पर हजरों की संख्या में भीड़ के इकठ्ठा हिअजने कारण व्यवस्था चरमरा गई।वंही कई जगहों पर स्वास्थ्य विभाग की भी बड़ी लपरवाही देखने को मिली इस जगरूकता के समय मे 12 बजे तक कई सेंटरों पर वैक्सीन नही पहुंच पाया था।जिससे लोग हंगामा करने लगे।

115 जगहों पर 20 हजारों लोगों को वैक्सीनेट का लक्ष्य

गुरुवार को पूरे जिले में 20 हजार लोगों को वैक्सीनेट करने का लक्ष्य मिला है।जिसके लिए जिला मुख्यालय समेत सभी प्रखण्डों को मिलाकर 115 ग्रामीण क्षेत्रो में टीकाकरण के लिए शिविर लगाया गया था।जिसकी सूचना सोशल मीडिया व प्रिंट मीडिया के माध्यम से लोगो को जनकारी दी गयी थी।जंहा सभी चिन्हित कैम्पो पर सुबह सात बजे से ही लाइन में खड़ा होना प्रारम्भ कर दिए थे।जिसके कारण जब दस बजे सेंटरों पर स्वास्थ्य कर्मी जब वायल लेकर पहुंचे तो पहले टिका लेने की होड़ में व्यवस्था चरमरा गयीं।कंही कंही तो भीड़ इतनी बेकाबू दिखी की पुलिस बल का प्रयोग करना पड़ा

12 बजे तक वैक्सीन न पहुंचने से ग्रामीणों में आक्रोश

राजपुर प्रखण्ड धनसोइ व समहुता गांव को मिलाकर ग्रामीण क्षेत्रो में कुल 18 जगहों पर कैम्प लगाया गया था।लेकिन ग्रामीण सुबह से ही सेंटर पर पहुंच वैक्सीन के इंतजार में बैठ रहे।10 बज गए ,11 बज गया ,12 बज गया लेकिन सेंटरों पर स्वास्थ्य कर्मियों का 12 बजे तक कोई आता पता नही था।जिससे आक्रोशित ग्रामीणों द्वारा अधिकारों से वैक्सीन के बारे में पूछा जा रहा था व कई जगह शिकायत भी किया गया।वंही की आक्रोशित ग्रामीणों द्वारा मुख्य सड़क को जाम करने का माहौल बनाया जा रहा था।हालांकि 12 बजे सेंटर पर वैक्सीन तो पहुंचा लेकिन हंगामे के कारण दो बजे तक वैक्सीनेसन स्थगित रहा।

चौसा में बेकाबू हुआ भीड़ तो काउंटर छोड़ भागे कर्मी

चौसा में कुल 2 हजार लोगों को वैक्सीनेट करने का लक्ष्य मिला था।जिसके लिए चौसा प्रखण्ड में छह पंचायतो में वैक्सिनेशन शिविर लगाया गया था।हर जगह बेकाबू भीड़ होते ही कर्मी काउंटर छोड़ भाग गये।वही सूचना पर पहुंची पुलिस ने बेकाबू भीड़ को लाइनप कराया ।लेकिन पुलिस को जाते ही फिर पहले बाहुबली बनने की होड़ में हांगमे के बिच वैक्सीनेशन होता रहा।

वैक्सीन समाप्त हो गया इंतजार में बैठे रहे लोग

बक्सर जिला के अधिकतर सेंटरों पर वैक्सीन दो बजे ही समाप्त हो गई।कर्मी लोगो को बिना सही जनकारी दिए ही भाग गए।चौसा बीआरसी में बैठे सैकड़ो लोगो से पूछा गया कि वैक्सीन अब नही लगेगा क्यो बैठे है।तभी सभी ग्रामीणों ने एक स्वर में कहा कि कर्मी बोल की वैक्सीन आ रहा है।जब इस सम्बंध में पीएचसी प्रभारी डॉ अरुण कुमार श्रीवास्तव से बात किया गया तो उन्होंने कहा कि नही वैक्सीन जितना मिला था लगा दिया गया है।इसकी सूचना पीएचसी के सफाई कर्मी द्वारा जब ग्रामीणों को सूचना दी गयी तो ग्रामीण वहां से बड़बड़ाते वापस हुए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button