ठोरा नदी के समीप डंपिंग की जा रही है शहर का कचरा, बीमारियों को दिया जा रहा नेवता

-कचरा से निकलने वाले दुर्गंध से लोगों को हुआ आना जाना मुश्किल,,, - नदी के समीप ही स्थित है सदर अस्पताल

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :- शहर में जहां तहा गंदगी का साम्राज्य फैला हुआ है। जिम्मेदार मौन साधे हुए है। वही इसको लेकर हमेशा शहरवासियों में आक्रोश देखा गया है| खास बात यह है कि शहरी सफाई व्यवस्था कागजों में दुरुस्त दिखाई जा रही है। हालांकि शहर में सफाई भी होती है लेकिन वह कचड़ा अब ठोरा नदी किनारे डंपिंग कर रही है|

med bed buxar copy
विज्ञापन

नदियों की स्वच्छता के लिए केंद्र सरकार लगातार अभियान भी चला रही हैं, वहीं यहा इसके ठीक इसके विपरीत काम करने में जुटे हैं। क्षेत्र से निकलने वाले कचरा को सेंद्र्ल जेल के समीप ठोरा नदी के किनारे डंपिंग करने का काम निरंतर जारी है, जबकि स्थानीय लोग भी अब इसका विरोध कर रहे हैं।

लगतार कचरा ठोरा नदी के किनारे डंपिंग होती रही तो नदी तो प्रदूषित होगा ही वही आसपास के क्षेत्रो में भारी बीमारी ला नेवता दे रही है| अब धीरे धीरे छोर पर नदी के किनारों को कचरा से भरा जा रहा है।

ठोरा नदी में सालों भर पानी रहता है।आसपास की बस्तियों में रहने वाले लोग नदी में स्नान-ध्यान एवं रोजमर्रा के सफाई कार्य के लिए आते है| अब कचरा से कई प्रकार के संक्रमण की बीमारी आसपास के लोगों नेवता देनी लगी है|

देखे वीडियो :-

कुछ ही दुरी पर स्थित है सदर अस्पताल

गंदगी होने से बीमारियों का नेवता तो मिलना शुरू हो गया है| वही नदी के कुछ ही दुरी पर सदर अस्पताल है| अस्पताल में लोग ठीक होने जाते है लेकिन कचरा से निकलने वाले दुर्गन्ध से और बीमारी होने की आशंका होने लगी है| मुख्य सड़क से आने जाने वाले लोगों को परेशानी से जूझना पड़ रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button