सिपाही अभ्यर्थियों ने ट्रेनों पर जान जोखिम में डालकर किया सफर

परीक्षा समाप्ति के बाद वापस लौटने के लिए अभ्यर्थियों में आपाधापी की स्थिति रही। बक्सर रेववे स्टेशन पर पहुँचे अभ्यर्थियों ने ट्रेनों पर जान जोखिम में डालकर सफर किया। अभ्यर्थियों ने ट्रेन के कोच से लेकर इंजन तक पर कब्जा जमा लिया।

सिपाही अभ्यर्थियों ने ट्रेनों पर जान जोखिम में डालकर किया सफर

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :- परिवहन विभाग में चलंत दस्ता सिपाही की बहाली के लिए केंद्रीय चयन पार्षद सिपाही भर्ती द्वारा रविवार को परतोयोगिता परीक्षा आयोजित की गई। इसके लिए बक्सर जिला मुख्यालय में 12 केंद्र बनाए गए थे। लगभग 7 हजार 397 अभ्यर्थियों ने पहली पाली में परीक्षा दी।

खास बात यह रही कि परीक्षा समाप्ति के बाद वापस लौटने के लिए अभ्यर्थियों में आपाधापी की स्थिति रही। बक्सर रेववे स्टेशन पर पहुँचे अभ्यर्थियों ने ट्रेनों पर जान जोखिम में डालकर सफर किया। अभ्यर्थियों ने ट्रेन के कोच से लेकर इंजन तक पर कब्जा जमा लिया। इस दौरान आरपीएफ और जीआरपी के अधिकारी से लेकर सिपाही तक मशक्कत करते नजर आए। लाख समझने के वावजूद भी अभ्यर्थी जान जोखिम में डालकर ट्रेनों पर सफर करते नजर आए।

परीक्षा को लेकर रेलवे की तरफ से कोई खास प्लानिंग नहीं दिखती

अभ्यर्थियों का कहना था कि ट्रेनों की कमी और भीड़ ज्यादा होने के कारण उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि ज्यादातर अभ्यर्थी दूर दराज से परीक्षा देने आए हैं और अगर समय से ट्रेन नहीं मिली तो घर पहुचने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। लिहाजा जो ट्रेन पहले आ रही है उसी से जाना मजबूरी है।

[metaslider id=2268 cssclass=””]

दरअसल यह पहना मामला नही है जब किसी परीक्षा के बाद अभ्यर्थी जान जोखिम में डालकर सफर करते नजर आते हैं बल्कि इनका ट्रेनों पर इस कदर कब्जा हो जाता हैकि ट्रेन के इंजन तक पर सवार हो जाते हैं। हालांकि किसी तरह की कोई अनहोनी न हो और अभ्यर्थी सही सलामत अपने गंतव्य तक पहुच जाए इसको लेकर रेलवे की तरफ से कोई खास प्लानिंग नहीं दिखती। यह अलग बात है कि इस दौरान पुलिस के अधिकारी और जवान मशक्कत करते जरूर नजर आ जाते हैं।

बहरहाल एक कहावत है दुर्घटना से देर भली। अगर अभ्यर्थी इस कहावत को याद कर लें तो उन्हें खतरों से भरा सफर करने की नौबत नहीं आएगी। क्योकि जीवन अनमोल है और जान जोखिम में डालकर सफर करना किसी भी तरीके से फायदेमंद नहीं है।

इसे भी पढ़े :——————

BUXAR UPTO DATE NEWS APP

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button