आत्मनिर्भर कृषि एवं ‘हर मेड़ पर पेड़’ कार्यक्रम का हुआ आयोजन

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ /वीरेंद्र पाण्डेय :- देश की स्वतंत्रता के 75 वें वर्षगाठ के स्मरणोत्सव कार्यक्रम श्रृखंला “भारत का अमृत महोत्सव” तथा भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के 93 वें स्थापना दिवस समारोह के उपलक्ष्य पर वृहद् वृक्षारोपण कार्यक्रम शीर्षक “हर मेंढ़ पर पेड़” तथा एक दिवसीय किसान गोष्ठी कार्यक्रम शीर्षक “आत्मनिर्भर कृषि” का आयोजन संस्थान द्वारा देशभर में आयोजित किया गया है।

new abloom services buxar
विज्ञापन

इसी श्रृखंला मे कृषि विज्ञान केन्द्र, बक्सर द्वारा भी इन कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।कार्यक्रमों का उद्घाटन करते हुए केन्द्र के प्रभारी प्रमुख हरिगोविंद ने उपस्थित कृषक प्रतिभागियो को बताया कि खेत की मेंढ़ों पर वृक्ष लगाने से न केवल पर्यावरण संतुलन को बनाये रखने में सहयोग होता है ।

बागवानी एवं इमारती पौधों को लगाकर अतिरिक्त आमदनी का एक माध्यम बन सकता

खेती के साथ-साथ मेढ़ जो कि खेत का 10-15 प्रतिशत क्षेत्र होता है, इसका समूचित प्रयोग बागवानी एवं इमारती पौधों को लगाकर अतिरिक्त आमदनी का एक माध्यम बन सकता है। गोष्ठी कार्यक्रम मे उन्होंने प्रतिभागियों को धान की अधिक निर्यात की जानेवाली प्रभेदों तथा गेहूं की बायोफोर्टिफाइड प्रभेदों की उत्पादन की तकनीकी जानकारी दी।

विशेषज्ञ डाॅ0 देवकरन ने आत्मनिर्भर कृषि को बढ़ावा देने के लिए वर्षा जल संचयन एवं इसके उपलब्धता अनुरूप प्रयोग जैसे सूक्ष्म सिंचाई विधियों (टपक एवं बौछारी) की विस्तृत जानकारी प्रतिभागियों को दी। साथ ही साथ धान ,गेहूं फसल चक्र मे मेंढ़ पर पाॅपुलर, गम्हार व महोवनी ईमारती लकड़ी के वाणिज्यक उत्पादन की तकनीकी जानकारी दी।

विशेषज्ञ रामकेवल ने धान फसल का प्रबंधन, तना छेदक कीट से बचाव के उपाय की जानकारी प्रतिभागियों को दी। डाॅ0 मान्धाता सिंह ने आत्मनिर्भर कृषि के लिए किसानों को नवीन तकनीकियों जैसे धान की सीधी बुआई, पोषक तत्वों का संतुलित प्रबंधन, सूक्ष्म सिंचाई का उपयोग, कृषि मशीनों की जानकारी दी।कार्यक्रम के अन्तर्गत केन्द्र के प्रक्षेत्र के मेढ़ों तथा उद्यान ब्लाॅक में आम, अमरूद, निंबू व सागवान के 50 पौधें लगाये गये। वही 100 पौधों का वितरण किसान प्रतिभागियों के बीच किया गया।

कार्यक्रम में प्रमिला देवी, हरेराम पाण्डेय, चितरंजन तिवारी, बिनोद कुमार सिंह, सतेन्द्र चैधरी, संजय चैधरी, अरूण कुमार सिंह, अजय कुमार पाण्डेय, राकेश कुमार सिंह सहित कुल 40 कृषक सम्मिलित हुए। केन्द्र के विकास कुमार, आरिफ परवेज, अफरोज सुल्तान, भरत राम, रवि चटर्जी, राजेश कुमार, सरफराज अहमद, संदीप कुमार, अरविंद कुमार सहित अन्य ने सहयोग किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button