रेड जोन इलाके में लॉकडाउन के दौरान कोई रियायत नहीं

ads buxarजो इलाके रेड जोन में है वहां लॉक डाउन के दौरान कोई रियायत नहीं मिलेगी यह भी साफ हो गया है। यानी कि रेड जोन में पहले की तरह ही सब कुछ लागू रहेगा।

रेड जोन इलाके में लॉकडाउन के दौरान कोई रियायत नहीं

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :- देशभर में को रोना का कहर अभी भी जारी है इसकी रोकथाम के लिए सरकार के तरफ से हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। हालांकि कोरोना संकट में बाहरी प्रदेशों में फंसे बिहारियों के वापस आने का सिलसिला भी शुरू हो गया है जिसके कारण सरकार की चिंता और बढ़ गई है। कोरोना संक्रमण की गंभीरता को देखते हुए राज्य सरकार ने कोरोना के मामले में बिहार को अब केवल दो जोन में बांट दिया है।

पहला रेड जोन तो दूसरा ऑरेंज जोन। रेड जोन के तहत बिहार में 5 जिले हैं जबकि अन्य जिले ऑरेंज जोन में है। आपको पता है कि बक्सर भी रेड जोन में है। और जो इलाके रेड जोन में है वहां लॉक डाउन के दौरान कोई रियायत नहीं मिलेगी यह भी साफ हो गया है। यानी कि रेड जोन में पहले की तरह ही सब कुछ लागू रहेगा।

बाइक पर केवल एक व्यक्ति को ही चलने की इजाजत

दरअसल पूर्व की भांति केवल आवश्यक चीजों की ही दुकानें खुलेगी। अन्य दुकानें पूरी तरह से बंद रहेंगी। बाइक पर केवल एक व्यक्ति को ही चलने की इजाजत होगी जबकि चार पहिया वाहन पर एक चालक के अलावा दो अन्य लोगों को बैठने की अनुमति होगी। यह अनुमति भी तब होगी जब बहुत ही किसी आवश्यक कार्य से बाहर निकल रहे हैं और उसका प्रमाण आपके पास होना आवश्यक है।

आपको पता है कि पूरे देश में कोरोना के संक्रमण को देखते हुए लॉक डाउन पार्ट 3 आज से शुरू हो गया है। बिहार सरकार के गृह विभाग से आदेश जारी होने के बाद अब तमाम जिलों के डीएम भी लॉक डाउन के पालन को लेकर काफी सख्त नजर आ रहे हैं। बक्सर डीएम अमन समीर ने साफ-साफ कह दिया है कि रेड जोन में जो भारत सरकार के गाइडलाइन है उसके मुताबिक आवश्यक चीजों में ही रियायत मिलेगी।

यानी की राशन की दुकानें खुलेगी और मेडिकल स्टोर भी खुले रहेंगे। अन्य चीजों की दुकानें बिल्कुल नहीं खुलेगी। इसके अलावे सुबह 7 बजे से लेकर शाम 7 बजे के बीच ही यह दुकानें खुलेगी। इस टाइम के दौरान किसी को बेवजह घरों से बाहर निकलने की इजाजत बिल्कुल नहीं होगी। बेवजह घूमते पकड़े जाने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। एक आदेश के तहत डीएम ने यह भी अपील की है कि 10 वर्ष के नीचे और 65 वर्ष के ऊपर के लोग किसी भी हालत में घर से बाहर नहीं निकले।

कोरेन्टीन सेंटरों पर स्वास्थ्य जांच की पूरी व्यवस्था

प्रवासी बिहारी मजदूरों एवं छात्रों के वापसी पर बक्सर डीएम अमन समीर ने कहा कि उनके लौटने के बाद उन्हें क्वॉरेंटाइन करने की पूरी समुचित व्यवस्था की गई है। जिले 11 प्रखंडों में पहले 55 कोरेनटाइन सेंटर बनाए गए थे लेकिन अब उसे बढ़ाकर 71 कर दिया गया है। कोरेन्टीन सेंटरों पर स्वास्थ्य जांच की पूरी व्यवस्था होगी और उन्हें किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं हो इस बात का खास ख्याल रखा जाएगा। डीएम ने लोगों से अपील की है कि लोग बेवजह अपने घरों से बाहर ना निकले और इसके होम स्टे सेफ के तर्ज पर खुद को कोरोना के संक्रमण से बचाएं।

कोरोना पॉजिटिव केसों की संख्या 50 बार होने के बाद बक्सर जिला प्रशासन भी काफी अलर्ट मोड़ में है और लगातार लोगों से अपील कर रहा है कि लोग इस संक्रमण से खुद को बचाने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और बेवजह घरों से बाहर नहीं निकले।

इसे भी पढ़े :————————————-

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

Share:

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on pinterest
Pinterest
Share on linkedin
LinkedIn

Leave a Reply

Social Media

Most Popular

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Categories

On Key

Related Posts

जिला परिषद अध्यक्ष विद्या भारती तो उपाध्यक्ष बनी नीलम देवी

जिला परिषद अध्यक्ष विद्या भारती तो उपाध्यक्ष बनी नीलम देवी

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :-जिला निर्वाचन पदाधिकारी(पं०)-सह-जिला पदाधिकारी बक्सर श्री अमन समीर की अध्यक्षता में समाहरणालय अवस्थित सभाकक्ष में जिला परिषद पद के निर्वाचित

2022 का पहला दिन :सुबह-सुबह मंदिरों में जुटे श्रद्धालु, दर्शन के लिए लगानी पड़ी लाइन

2022 का पहला दिन :सुबह-सुबह मंदिरों में जुटे श्रद्धालु, दर्शन के लिए लगानी पड़ी लाइन

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :- नए साल के पहले दिन मंदिरों में आस्था का सैलाब देखने को मिला| जिला समेत गाँवो के सभी छोटे-बड़े