नही पिघला उस माँ का दिल, झाड़ियों में फेंक दी नवजात शिशु

नही पिघला उस माँ का दिल, झाड़ियों में फेंक दी नवजात शिशु

बक्सर अप टू डेट न्यूज़/डुमराव:- एक बार फिर एक कलयुगी माँ ने शर्मसार कर दी। माँ होना केवल गर्व की बात नही होती बल्कि सौभाग्य की, भी बात होती हैं। कहा जाता है पुत्र कुपुत्र हो सकता है परंतु माता कुमाता नही होती। पर उस माँ को आज क्या हो गया जो झाड़ियों में फेंक दी नवजात शिशु को।

वह माता आज कुमाता कैसी हो गई। भाला यह सोचने वाली बात है। जिस बच्चे को नौ माह अपने कोख में पाला और जब जन्म लिया तो उसे झाड़ियों में क्यो फेक दिया। यह शब्द भी आज कलंकित महसूस कर रहा होगा पुत्र कुपुत्र हो सकता है परन्तु माता कुमाता नहीं। यह सोचने वाली बिषय बन गया है।

झाड़ियों में मिली नवजात शिशु, रोने की आवाज सुन पहुंच लोग

मामला पुराना भोजपुर लगभग सुबह सात बजे की है।जहाँ पुराना भोजपुर मिशन हाई स्कूल के सामने झाड़ियों में रोने की आवाज सुनाई दी

वही अपने खेत की ओर जा रहे किसान को रोने की आवाज सुनाई दी। वह रुक गये और झाड़ियों के तरफ देखने लगे, वही झाड़ियों में देखा तो देखते ही रह गया। वही महज दो दिन का बच्चा रो रहा है। तभी उसने अगल बगल के लोगो को उसने जानकारी दी। वही धीरे-धीरे सड़क से जा रही लोगों की भीड़ इकट्ठी होने लगी।

लोगो का एक बात निकल रही थी आखिर वह कौन माँ थी जो अपने बच्चों को यहां फेक दिया। नाना तरह के बात कह रहे थे।
वही कुछ ही देर बाद नया भोजपुर ओ पी थाने की पुलिस पहुंच गई और कुछ ही देर पल चाइल्ड लाइन की टीम के लोग भी आ पहुंचे। वही शिशु को बेहतर इलाज के लिए बक्सर भेजा गया। जहा खतरे से बाहर बताया जा रहा है।

इसे भी पढ़े:——-

buxar upto date news

Show More

Related Articles

One Comment

  1. thanks for u carent news milta hai .kiya? apko mai news send karunga to mere uper kisi parkar ka karwaiy nahi n kiya ja ga but koy bhi jankari ap tak kase pahuchai ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button