मुंडन संस्कार की भीड़,ट्रैफिक व्यवस्था चरमराया

ads buxar

शहर के रामरेखा घाट पर मुंडन संस्कार की भीड़ लगी थी। जाम के कारण पूरे शहर की ट्रैफिक व्यवस्था चरमरा गई थी। कड़ी धूप में जाम में फंसे लोगों का हाल बेहाल हो गया था।

मुंडन संस्कार की भीड़, ट्रैफिक व्यवस्था चरमराया

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :- शहर के रामरेखा घाट पर मुंडन संस्कार व तनाव को लेकर संस्कारियाें की भारी भीड़ लगी थी। जाम के कारण पूरे शहर की ट्रैफिक व्यवस्था चरमरा गई थी। कड़ी धूप में जाम में फंसे लोगों का हाल बेहाल हो गया था। वहीं हर बार की तरह इस बार भी प्रशासन की ओर से जाम से निपटने के लिए कोई प्रयास नहीं किया गया था।

लाखों की संख्या में आये लोग जैसे जैसे अपनी रस्म पूरी कर लौटने का प्रयास कर रहे थे। परंतु बेतरतीब तरह से सड़क किनारे लगे वाहनों ने जाम को बढ़ाने में और मदद की। इससे श्रद्धालुओं की परेशानी कम होने के बजाए बढ़ती ही रही।

मुंडन को लेकर बक्सर के रामरेखा घाट का विशेष महत्व

[metaslider id=2268 cssclass=””]

हर बार मुंडन संस्कार होने के कारण यह समस्या आ पड़ती है। परंतु प्रशासन की ओर से इससे निजात पाने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। मुंडन को लेकर बक्सर के रामरेखा घाट का विशेष महत्व है। लोग यहां मुंडन कराने के लिए मन्नतें मांगते हैं। मान्यता है कि यहां मुंडन व तनाव करने से बच्चें दीर्घायु होते हैं। साथ ही, उनकी बाधाएं दूर होती है। इसी क्रम में दूर दराज से आई सैकड़ों महिलाएं अपनी मन्नत पूरी करने को ले उतरायणी गंगा के तट स्थित रामरेखा घाट पर पूजा अर्चना के साथ मां गंगा के आंचल पर तनाव करती देखी गईं।

हिन्दू मान्यता के अनुसार मनुष्य के जीवन में सोलह संस्कार होते है। मुंडन इसमें शामिल है। इस संस्कार को करने के लिए श्रद्धालु रामरेखा घाट पर आते है। जिस कारण यह भीड़ अधिक बढ़ जाती है। सुबह से ही लोग ट्रक, ट्रैक्टर, बस, जीप आदि से बिहार समेत अन्य राज्यों के जिले से जुटने लगे। घाट के तट पर जहां महिलाएं अपने बच्चों का मुंडन कराने पहुंची, वहीं महिलाओं का अलग ही झुंड नौका के माध्यम से तनाव करने में लगा रहा।

इसे भी पढ़े :—————–

BUXAR UPTO DATE NEWS APP

Related Articles

Back to top button