पूर्व नियोजित षड्यंत्र के तहत हुई थी युवती की हत्या

तीनों बाइक लेकर धनसोइ होते हुए इटाढी थाना क्षेत्र को कुकुढ़ा की ओर चल दिए पूर्व नियोजित षड्यंत्र के तहत एक दूसरे बाइक पर तीन व्यक्ति और थे। घटनास्थल पर गोली मार हत्या करते हुए पहचान छुपाने की नियत से फुआल से उसे जला दिया था |

ads buxar

पूर्व नियोजित षड्यंत्र के तहत हुई थी युवती की हत्या

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :- इटाढ़ी थाना क्षेत्र के अंतर्गत कुकढ़ा बधार से एक अधजली अज्ञात महिला का शव बरामद किया गया था। इस कांड के उद्भेदन हेतु पुलिस महानिदेशक बिहार पटना का मार्गदर्शन लगातार प्राप्त होते रहा हैं। अपर पुलिस महानिदेशक अपराध अनुसंधान विभाग बिहार पटना द्वारा एक सूचना मिली कि दिनारा थाना क्षेत्र के महेंद्र प्रसाद गुप्ता की लड़की इंदु देवी घटना की रात से ही गायब है।

अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी बिक्रमगंज, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी बक्सर तथा विशेष टीम के सदस्यों द्वारा इस कांड की तहकीकात में दिनारा में पूछताछ किया गया। जिसे स्पष्ट हुआ कि कुकुढ़ा में मिला अज्ञात लाश महेंद्र प्रसाद गुप्ता के बेटी का है। सत्यापन के क्रम में महेंद्र प्रसाद गुप्ता की पत्नी शर्मिला देवी पुत्र मुकेश कुमार एवं पुत्री प्रीती कुमारी ने उस अज्ञात शव को अपने पुत्री/बहन इंदु उर्फ रानी के रूप में पहचान की। लोगों ने स्वीकार किया कि लड़की उसका पिता भाई एवं तीन अन्य अन्य लोग मिलकर गोली मार हत्या कर पहचान छुपाने के लिए बगल में रखे पुआल से जला दिया।

इंदु देवी की शादी 5 मार्च 2018 को डुमराव थाना क्षेत्र में हुई थी

महेंद्र प्रसाद गुप्ता पिता हेमा साह दिनारा थाना रोहतास जिला के अंतर्गत पिछले लगभग 2 साल से धनसोइ थाना के इटढिया गांव में स्थित बैंक में सुरक्षाकर्मी के रूप में काम कर रहे थे। जो एक रिटायर फौजी है। जिनका तीन बेटी एवं दो बेटा है। सबसे बड़ी बेटी इंदु देवी जो इंदु देवी की शादी 5 मार्च 2018 को डुमराव थाना क्षेत्र के सूरजभान प्रसाद गुप्ता पिता श्री राम प्रसाद गुप्ता के यहां हुई थी ।शादी के बाद 7 मार्च 2018 को इंदु देवी अपने ससुराल से अपने मायके कहते हुए आ गई कि वह दिनारा के ही रोशन खरवार पिता सुरेश खरवार से ही शादी करेगी वह उससे प्यार करते हैं परंतु अब रोशन खरवार उसे शादी करने के लिए तैयार नहीं था। st join buxar

पूर्व नियोजित षड्यंत्र के तहत हुई थी इंदु देवी हत्या

रोशन का कहना है कि जब तुम एक बार शादी कर ली हो तो अब हम तुमसे शादी नहीं करेंगे। इंदु देवी अब अपने घर पर ही रहने लगी परंतु वह घर पर किसी का बात नहीं सुनती थी। एक बार घर से भागने का प्रयास भी की। उसके माता-पिता के कई बार समझाएं कि तुम अपने ससुराल चले जाओ परंतु इंदु देवी नहीं मानी। धीरे-धीरे इंदु देवी के घर वाले परेशान होने लगे कि घर का इज्जत धूमिल हो जाएगी।

इसी क्रम में 2 दिसंबर 2019 को रात्रि 8:15 बजे महेंद्र गुप्ता उनकी मां शर्मिला देवी भाई यह कहते हुए इंदु देवी को चलने के लिए कहा कि चलो तुमको स्टेशन ले चलते हैं बोधगया छोड़ देंगे। तीनों बाइक लेकर धनसोइ होते हुए इटाढी थाना क्षेत्र को कुकुढ़ा की ओर चल दिए पूर्व नियोजित षड्यंत्र के तहत एक दूसरे बाइक पर तीन व्यक्ति और थे। कुकुढ़ा के पास उतरकर बाइक मेन रोड पर किनारे लगाकर घटनास्थल पर गोली मार हत्या करते हुए पहचान छुपाने की नियत से फुआल से उसे जला दिया और वहां से पाचो घर की ओर लौट गए।

इसे भी पढ़े :——————

BUXAR UPTO DATE NEWS APP

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button