सड़क दुर्घटना में पति की मौत,पत्नी की हालत सीरियस

सिपाही पत्नी को दरोगा का परीक्षा दिलाने ले जा रहा था पति ,परीक्षा सेंटर पहुचने से पहले अज्ञात स्कार्पियो की चपेट में आ गए दम्पति

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ |चौसा :- मुफस्सिल थाना क्षेत्र के कम्हरिया गांव के पास पत्नी को दरोगा की परीक्षा दिलाने ले जा रहा है पति की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। वही पत्नी गंभीर रूप से घायल हो गई है।स्थानीय लोगो द्वारा पति पत्नी को सड़क से उठा सदर अस्पताल पहुंचाया गया।जहां महिला की हालत ज्यादा सीरियस होने के कारण बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया गया।जबकि पति को डॉ ने मृत घोषित कर दिया।सूचना पर पहुंची पुलिस द्वारा शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया। वही अज्ञात वाहन के खिलाफ FIR दर्ज कर आगे की करवाई की जा रही है।इस घटना के बाद से ही दोनो के ससुराल व मायके में कोहराम मचा हुआ है।add buxar

घटना रविवार की सुबह की है, 10 बजे से बक्सर एमभी कॉलेज में परीक्षा था, पत्नी पूजा देवी( 25 वर्ष) को पति विनोद चौधरी 30 वर्ष अपने ससुराल राजपुर थाना क्षेत्र के जलीलपुर से बाइक पर बैठा बक्सर की तरफ जा रहा था। घने धुंध के कारण कुछ साफ साफ दिखाई नही दे रहा था।तभी कम्हरिया व दानी कुटिया के बीच लाढोपुर के पास बक्सर की तरफ से आ रही तेज रफतार स्कार्पियो से सीधी टक्कर हो गई।इस घटना के बाद स्कार्पियो लेकर चालक फरार होने में सफल रहा।जिसमे विनोद चौधरी की मौके पर ही मौत हो गई।

वही पूजा कुमारी का हालत सीरियस होने के कारण प्राथमिक उपचार के बाद रेफर कर दिया गया।जिसकी सूचना पर पहुंचे परिजन पूजा को लेकर बेहतर इलाज के लिए वाराणसी चले गये।वही पुलिस द्वारा विनोद की शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौप दिया गया।

2015 में दोनो की धूमधाम से हुई थी शादी

परिजनों ने बताया कि पूजा देवी बक्सर जिले के राजपुर थाना क्षेत्र की जलीलपुर निवासी श्री रामचन्द्र की पुत्री है। जिसकी 2015 में UP के गाजीपुर जिला के नोनहरा थाना क्षेत्र के जल्लापुर निवासी विनोद चौधरी पिता- रमेश चौधरी के साथ धूमधाम से रीति रिवाज के साथ सम्पन्न हुआ था।शादी के बाद पूजा ने दो सुंदर बेटियों को भी जन्म दिया।

बड़ी बेटी सिमरन साहनी 5 वर्ष ,व दूसरी बेटी पूर्वी साहनी 2 वर्ष की है।दोनो बेटियों का ख्याल माँ से अधिक पिता द्वारा रखा जाता था।क्यो माँ को घर के कुछ काम के अलावे सरकारी नौकरी भी देखनी थी। लेकिन भगवान को कुछ और ही मंजूर था।सड़क दुर्घटना में पति की मौत हो गई तो वही पत्नी जींवन और मौत की जंग वाराणसी ट्रामा सेंटर में लड़ रही है।वही दोनो मासूम बच्चियों के सर से बाप का साया भी उठ गया।

शादी के बाद पत्नी को जेल पुलिस बनने में किया सहयोग

ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि पूजा बचपन से ही तेज तर्रार थी जिसका सपना देश सेवा करने का था।लेकिन गरीब परिवार से आने के कारण पिता द्वारा शादी योग्य समझ उसकी शादी UP के विनोद चौधरी से कर दी गई।विनोद चौधरी नौकरी की तलाश में थे कोई जॉब मिली नही थी।लेकिन जब विनोद चौधरी को अपने पत्नी के सपने के बारे में पता चला तो वह उसके तैयारी में मदद करने लगे।जिसके कारण 2017 में पूजा बिहार जेल पुलिस में सलेक्ट हो गई।वह फिलहाल कैमूर जिले के भभुआ जेल पुलिस में कार्यरत है। लेकिन पति उसे दरोगा बनाना चाह रहे थे।जिसका रविवार को बक्सर के एमभी कॉलेज में उसका सुबह दस बजे से परीक्षा था।लेकिन परीक्षा सेंटर से महज पांच किलोमीटर पति पत्नी को अज्ञात स्कार्पियो द्वारा रौंद दिया जाता है।

इस घटना के सूचना के साथ ही ससुराल व मायके वाले आनन फानन में बक्सर पहुंच गए।पूजा के ससुराल वाले पोस्टमार्टम के बाद विनोद के शव को ले UP के जल्लापुर चले गये।वही पूजा के मायके वाले पूजा को लेकर वाराणसी ट्रामा सेंटर चले गए।इस हृदय विदारक घटना से बक्सर के जलीलपुर व UP के गाजीपुर जिले के जल्लापुर में कोहराम मचा हुआ है।दोनो तरफ परिजनों का रो -रो कर बुरा हाल है

मुफस्सिल थानाध्यक्ष अमित कुमार द्वारा बताया गया कि सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के बाद युवक की शव को परिजनों को सौंप दिया गया।वही अज्ञात वाहन के खिलाफ FIR दर्ज कर आगे की करवाई की जा रही है।वहीं महिला को उसके मायके वाले बेहतर इलाज के लिए वाराणसी लेकर चले गये।टक्कर मारने वाली वाहन के बारे में पता लगाने की कोशिश की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button