दोस्तों ने मारी युवक को गोली, एक जिंदा कारतूस और एक खोखा बरामद

कमलजीत और मनीष के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज

घटना की सूचना मिलते ही नावानगर थाने और सोनवर्षा ओपी की पुलिस मौके पर पहुंची, जहाँ से एक जिंदा कारतूस और एक खोखा बरामद किया गया।

दोस्तों ने मारी युवक को गोली, एक जिंदा कारतूस और एक खोखा बरामद

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :- गुरुवार को सोनवर्षा ओपी थाना क्षेत्र के गिरिधर बरांव के गेट के पास बस स्टैंड के समीप  एक युवक को उसके दोस्तों ने ही घर से बुलाकर गोली मार दी। जख्मी युवक गिरिधर बराव के रहने वाले वीरेश सिंह का पुत्र शशि कुमार सिंह बताया जाता है।

बताया जाता है कि गिरिधर बरांव निवासी वीरेश सिंह का पुत्र शशि सिंह (22 वर्ष) आरा में रहकर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करता है। होली की छुट्टी में वह गांव आया था। गुरुवार को एक बाइक पर सवार होकर मणियां गांव निवासी यमुना यादव का पुत्र कमलजीत यादव और स्व मुंशी साह का पुत्र मनीष साह गिरिधर बरांव गांव के बाहर बस स्टैड पहुंचा। कमलजीत ने फोन करके शशि को गांव के बाहर बुलाया।

जिंदा कारतूस और एक खोखा बरामद

दोस्तों के बुलावे पर वह गांव से बाहर पहुंचा। उसके मुताबिक दोनों उसके साथ मारपीट करने लगे। इसी बीच कमलजीत ने पिस्टल निकाला और शशि को निशाना बनाते हुए गोली चला दी। पहली गोली मिस कर गई, लेकिन दूसरी गोली फायर हो गई और उसकी गर्दन में जा लगी। इसके बाद कमलजीत और मनीष बाइक पर सवार हो वहां से भाग निकले। खून से लथपथ शशि को तत्काल आरा ले जाया गया, जहाँ उसकी हालत नाजुक देखते हुए डॉक्टर ने पटना रेफर कर दिया।

घटना की सूचना मिलते ही नावानगर थाने और सोनवर्षा ओपी की पुलिस मौके पर पहुंची, जहाँ से एक जिंदा कारतूस और एक खोखा बरामद किया गया। वही घटना की सूचना मिलते ही डुमरांव एसडीपीओ के0 के0 सिंह मौके पर पहुँचकर मामले की जांच में जुट गए। इस मामले में शशि ने कमलजीत और मनीष के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराई है। पुलिस अब इन दोनों की तलाश में लग गई है। सोनवर्षा थानाध्यक्ष प्रियांशु प्रियदर्शी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। आपसी विवाद में गोली मारी गई है। बहुत जल्द सभी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इसे भी पढ़े :———————————

बिहार की सभी जिलो की खबरे पढने और देखने के लिए क्लिक करे

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button