आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर पूर्व मुख्यमंत्री का फुका पुतला

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :- ब्राह्मणों पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी के मामला को तूल पकड़ा दिया है| मंगलवार को ब्रह्मपुर चौरस्ता पर माझी का पुतला दहन किया गया है| सौकड़ों के संख्या में उपस्थित युवाओं ने विरोध करते हुए माझी को एनडीए से निष्कासित करने का मांग उठाया|add buxar

कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहे युवा नेता सतानन्द ओझा ने बताया कि मांझी केवल ब्राह्मणों को नही बल्कि पूरे सनातन समाज पर अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया है, हासिए पर आ चुके माझी अपनी राजनीति रोटी सेकने के किए आए दिन अनर्गल बयान देते रहते है अगर ऐसे तत्वों का विरोध नही होगा तो अलगाववादी तत्व हावी होंगे |

वही,अश्विनी ओझा ने कहा कि मांझी सन 2014 में सवर्णो को विदेशी बता चुके है और पुनः किसी जाति विशेष को लेकर अपशब्द और अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल किया है जिसका विरोध हर वर्ग से होना चाहिए वरना देश विरोधी गतिविधियां बढ़ेगी, श्री माझी जिस वर्ग विशेष आते है वो अपने समुदाय में जाकर पूछे कि सनातन परंपरा क्या है और तब जाकर बयान दें, और इन्हने सर्वाधिक मंच से इस तरह का उलूल-जुलूल बयान देने नही बन्द किया तो इसका व्यापक विरोध प्रदर्शन होगा|

मौके पर विवेक सूर्यमणि ओझा, सुमन्त चतुर्वेदी, मुकेश पांडेय, रुद्र पांडेय, बी०डी पांडेय, नीतीश तिवारी, सचिन उपाध्याय, विशाल तिवारी, बुलेट ओझा, नरायण मिश्रा, चंदन ओझा, बिट्टू पांडेय, रौशन ओझा आदि मौजूद थे |

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button