कटाव से बक्सर-कोईलवर बांध पर मडराने लगा खतरा, बचाव के लिए रखी जा रही बालू की बोरियां

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ |ब्रह्मपुर:- प्रखण्ड के दक्षिणी नैनीजोर पंचायत के बक्सर कोईलवर तटबंध के वदल‌ईया में हो रहे भारी कटाव और बाढ की विकरालता का निरीक्षण अधिकारियो के द्वारा किया गया|

med bed buxar copy
विज्ञापन

बांध पर हो रहे लगातार कटाव की रोकथाम के लिये एसडीएम और अधिक्षण अभियंता ने तत्काल निर्देश देते हुए पूर्व से रखी रेत भरी बोरीयो लगाने तथा झाड़ी के साथ साथ बबुल की झांखी लगा कर कटाव के प्रभाव रोकने का निर्देश दिया तथा जगह जगह पर कटाव का निरिक्षण करते हुए चौबीस घंटे जनरेटर और टीयूब लाइट जला कर अधिक संख्या में मजदूरों को लगाकर काम करने का निर्देश दिए।

बता दें कि बाढ की भयावह स्थिति को देखकर नैनीजोर और महुआर पंचायत के सैकड़ों गांवों के ग्रामीणों में डर भरा दहसत बना हुआ है वहीं बाढ़ की विभीषिका स्थिति में पुरा फस चूके ढाबी, गजाधर डेरा, पोखरा ढाला सहित महुआर पंचायत के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण पदाधिकारियों ने किया। नाव का प्रबंध कर भेज दिया गया और भोजन के लिये लंगर चला कर जल्दी से जल्दी कराए जाने की बात कही।आपदाओं से बचने के लिए एन डी आर एफ तैनात करने की बात कही गई।

निरिक्षण के दौरान एसडीएम हरेंद्र राम बीडीओ आशिश मिश्रा,सीओ प्रियंका कुमारी, अधिक्षण अभियंता बाढ़ नियंत्रण अंचल बक्सर के संजय कुमार श्रीवास्तव सहायक अभियंता कमरुज्जमा कनिय अभियंता अखिलेश कुमार मिश्रा तथा नैनीजोर थानाध्यक्ष मनोज कुमार पाठक रहे| मौके समाज सेवी विरेन्द्र कुमार यादव दक्षिणी नैनिजोर पंचायत के मुखिया धर्मेंद्र तिवारी महुआर पंचायत के मुखिया ललन सिंह यादव एकराशि मुखिया प्रतिनिधि संतोष यादव तथा पोखरहा मुखिया जितेंद्र यादव, बजरंगी तिवारी, विष्णु दयाल यादव सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button