चौसा स्टेशन पर ट्रेन के ठहराव नही होने से आम लोगो की बढ़ी परेशानी

बक्सर अप टू डेट न्यूज़|चौसा:- दानपुर रेल खण्ड स्थित चौसा रेलवे स्टेशन पर कोरोना काल में प्रभावित हुई रेलवे की व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए अभी और मशक्कत करनी होगी। साथ ही यात्रियों को सहूलियत देने के लिए भी प्रयास करने होंगे, क्योंकि कोरोना काल में बंद हुई लंबी दूरी की सभी ट्रेनों का संचालन नहीं हो पा रहा।

med bed buxar copy
विज्ञापन

मात्र दो जोड़ी पसिंजर ट्रेने संचालित हो रही हैं।जिससे यहां से लंबी दूरी को तय करने वाले जनता व व्यवसायी वर्गों को काफ़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।जिससे धीरे धीरे लोगो मे रेलवे की व्यवस्था को ले कर आक्रोश देखा जा रहा है। साथ ही यात्री कल्याण से भी लोगो का विश्वास समाप्त होते जा रहा है।

परेशन हो रहे है रोज मॉल लेन वाले व्यापारी

बता दे कि चौसा रेलवे स्टेशन अपने आप में एक महत्व रखता है। जो की पौराणीक, एतिहासीक स्थान होने के साथ साथ 1320 मेंगा वॉट थर्मल पावर प्लांट का निर्माण प्रारम्भ होने से इसका महत्व और भी बढ़ गया है । यह स्टेशन दानापुर, बक्सर पं0 दीन दयाल उपाध्याय रेल मार्ग पर बिहार राज्य के सीमावर्ती स्टेशन है । जहां आसपास के हजारों गांवो के ग्रामीणों के साथ सैकड़ो गांवो के व्यवसायियों के लिए इस स्टेशन पर फिर से मेल व एक्सप्रेस ट्रेनों के ठहराव से इनलोगो का सफर सुहाना हो सकता है। साथ ही साथ बक्सर स्टेशन पर यात्रियों का भार भी कम किया जा सकता है।

व्यवसायी वर्ग के लोगो द्वारा बताया गया कि चौसा स्टेशन पर केवल दो जोड़ी पसिंजर ट्रेनों के परिचालन से काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।कोरोना काल मे बन्द हुए मंदिर ,मस्जिद,मेला ,हाट बाजार,विद्यालय सब कुछ खोल दिया गया है।लेकिन चौसा स्टेशन पर ठहराने वाली अच्छी ट्रेनों का परिचालन नही किया गया।जिससे हमारे बिजनेस को सुचारू रूप से चलाने में समस्या आ रही है।इसलिए रेलवे विभाग तत्काल चौसा स्टेशन पर मेल एक्सप्रेस ट्रेनों का ठहराव करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button