गंगा किनारे लगा दर्जनों शव का अंबार, अधिकारी बोले-बहकर आई हैं लाशें

बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :- उत्तर प्रदेश के अज्ञात स्थानों से बहती हुई लाशों से चौसा प्रखंड स्तरीय पदाधिकारी परेशान एवं हैरान हैं। उपर से अफवाहों ने जिला स्तरीय अधिकारियों को भी परेशानी में डाल दिया है। साथ ही कुछ इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया द्वारा खबरों को सनसनी बना देने से स्थिति वास्तविक से परे लग रही है। जबकि वास्तविकता यह है कि उत्तर प्रदेश के अज्ञात स्थानों से लगभग पांच से दस दिनों तक सड़ी गली लाशें श्मशान घाट चौसा के आसपास गंगा नदी के किनारे रुक जा रही है।student lone buxar

इसका वास्तविक कारण यह है कि श्मशान घाट चौसा के पास गंगा नदी का बहाव उतरायणी दिशा की तरफ है। अतः गंगा की लहरें सीधा नहीं बहकर किनारे से टकराती हैं। जिससे मृतकों का सीधा बहाव नहीं होकर किनारे पर जमा हो जा रहा है। कुछ व्यक्तियों द्वारा अफवाह फैलाई गई कि श्मशान घाट पर लोग लाशों को जल प्रवाह कर रहे हैं, जिससे लाशों का ढ़ेर लग गया हैं।

वास्तविकता को जानने एवं समझने हेतु एस डी एम कृष्ण कांत ओझा एवं डीएसपी गोरख राम का स्वयं श्मशान घाट चौसा पर पहुंच कर प्रखंड विकास पदाधिकारी अशोक कुमार, अंचलाधिकारी नवलकांत एवं थाना अध्यक्ष मनोज कुमार सिंह से विचार विमर्श कर समस्या समाधान हेतु विचार विमर्श किया गया। वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन एवं निर्देशन पर प्रखंड स्तरीय पदाधिकारी प्रखंड विकास पदाधिकारी अशोक कुमार, अंचलाधिकारी नवलकांत एवं बक्सर मुफस्सिल थाना प्रभारी मनोज कुमार सिंह द्वारा किनारे लगी लाशों को जेसीबी मशीन से गड्ढा खोदवाकर उसमें डलवाने का कार्य किया जा रहा है। इसके साथ ही श्मशान घाट पर जल प्रवाह नहीं करने का अनुरोध किया जा रहा है।

उत्तर प्रदेश से अभी भी लाशों का आना जारी था

समाचार लिखे जाने तक लगभग दस से पंद्रह लाशों को गड्ढे में डाला जा चुका था। लगभग इतने के करीब किनारे पर जमा हुई है,जिसे उसे भी हटाने का कार्य किया जा रहा है। लेकिन उत्तर प्रदेश से अभी भी लाशों का आना जारी था। श्मशान घाट पर मृतकों के दाह संस्कार की सुविधा हेतु घाट पर कर्म काण्ड हेतु दीन दयाल पांडेय को अधिकृत किया गया है।जल प्रवाह से रोकने एवं अन्य सुविधाओं हेतु जितेंद्र कुमार पंचायत रोजगार सेवक बनारपुर एवं विजेन्द्र कुमार ठाकुर किसान सलाहकार पवनी पंचायत के साथ ही दो चौकीदार की भी नियुक्ति की गई है।

प्रखंड विकास पदाधिकारी अशोक कुमार, अंचलाधिकारी नवलकांत, थाना प्रभारी मनोज कुमार सिंह,सी आई अजय कुमार सिन्हा, राजस्व कर्मचारी देवेन्द्र कुमार सिंह सहित अन्य ने अफवाहों पर ध्यान नहीं देने का अनुरोध किया है।इन अधिकारियों ने बताया कि यूपी से बहती लाशों से वरीय पदाधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। श्मशान घाट चौसा पर अटकी लाशों को प्राथमिकता के आधार पर गंगा नदी से हटाकर किनारे गड्ढे में डलवाया जा रहा है। इससे जल एवं वायु प्रदुषण रुकने के साथ ही मृत आत्माओं को भी मुक्ति मिलेगी।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button