जांच के दौरान हाई स्कूल में कोरोना गाइडलाइन का उड़ा धज्जियां

बक्सर अप टू डेट न्यूज़|चौगाईं :- चौगाईं हाई स्कूल में छात्रा के भाई का पिटाई का मामला हाई प्रोफाइल बनने लगा, हाई प्रोफ़ाइल शनिवार को जांच में पहुचे डीपीओ प्रबोध कुमार ने विद्यालय को जांच के लिए पहुचे। हालाँकि जाँच के दौरान साहब के सामने ही कोविड-19 गाइडलाइन का जमकर धज्जियां उड़ा।

med bed buxar copy
विज्ञापन

इस दौरान न तो विद्यालय में जांच के लिए पहुँचे डीपीओ साहब ही और न ही कोई शिक्षक कोरोना गाइडलाइन के पालन के लिए छात्रों को जागरूक किये। जबकि कोविड-19 का तीसरा लहर सबसे ज्यादा बच्चों को ही चपेट में ले रहा है। उसके बाद भी अधिकारी इतना बड़ा लापरवाह होंगे, ये सोचा नहीं जा सकता है। चौगाईं हाई स्कूल में डीपीओ प्रबोध कुमार ने लगबग दो घण्टे जांच किये।

अनियमता मिलने पर प्रधानाध्याप और शिक्षक को जमकर फटकार लगाया

इस दौरान अनियमता मिलने पर प्रधानाध्याप और शिक्षक को जमकर फटकार लगाया। बता दे की चौगाईं हाई स्कूल के काफी शिकायत और छात्रा के भाई के पिटाई के बाद जिलाधिकारी ने मामले को गंभीरता से लिया। उसके बाद शनिवार को डीपीओ प्रबोध कुमार के द्वारा हाई स्कूल का घण्टो जाँच किया गया।

डीपीओ की जांच से शिक्षको में हड़कंप मच गया था। हाई स्कूल में मनमानी तरीके से अवैध वसूली किया रहा थी। इसी बीच गुरुवार को चन्दर कुमार ने बहन का टीसी लेने के लिए गए थे। जहाँ शिक्षक उमेश पांडे ने टीसी देने के लिए पैसा की मांग की, जहां चन्दर कुमार ने पैसा दिया। उसके बाद शिक्षक द्वारा दूसरे दिन टीसी देने की बात कही गई। जब चंदन कुमार ने इसका कारण पूछा तो शिक्षक उमेश पांडे और अभिभावक के बीच तू तू मैं मैं होते-होते नोकझोंक हो गया।

पीड़ित ने आरोप लगाया कि उसी दौरान शिक्षक उमेश पांडे ने हमें थप्पड़ जड़ कर धक्का दे दिया। उसके बाद बक्सर अप टू डेट न्यूज़ ने प्रमुखता से इस खबर को प्रकाशित किया। जिसके बाद जिला के अधिकारी हरकत में आ गए। और शनिवार को आनन फानन में प्रबोध डीपीओ ने चौगाईं हाई स्कूल में अवैध वसूली का जांच के लिए पहुच गये और एक एक छात्राओं से पूछ ताछ किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button