ओवरब्रिज का पहुंच पथ बनाने के लिए 2295 करोड़ का निविदा जारी,मिलेगा जाम से निजात

स्टेट हाइवे पर सफर करने वालो को बहुत जल्द मिल सकती है जाम से निजात

बक्सर अप टू डेट न्यूज़|चौसा :- चौसा- कोचस स्टेट हाइवे -13 स्थित रेल फाटक 78\Aके पास अधूरा पड़ा वोभरब्रिज  को पूरा करने के लिए बहुत जल्द ही कार्य प्रारम्भ कर दिया जाएगा।क्यो की बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लिमिटेड के द्वारा आरओबी के दोनों तरफ पहुंच पथ बनाने के लिए  करोड़ का टेंडर  जारी कर दिया गया है। जिसकी अवधि एक माह रखी गई है। इसके बाद पहुंच पथ का निर्माण कार्य प्रारम्भ कर दिया जायेगा।वर्षो से  अधूरा पड़ा वोभरब्रिज को पूर्ण करने के के लिए 22 करोड़ 95 लाख 90 हजार रुपये का टेंडर किया गया है।

med bed buxar copy
विज्ञापन

निविदा अवधि समाप्त होते ही काम शुरू हो जाएगा।जिससे इस मार्ग पर सफर करने वाले लोगो को काफ़ी सहूलियत मिलेगी।   बता दे कि 2015 में चौसा -कोचस मार्ग व चौसा- मोहनिया मार्ग पर सफर करने वाले लोगो को जाम से निजात देने के लिए केंद्र व राज्य सरकार की सहमती से ओभरब्रिज का निर्माण कार्य प्रारम्भ तो किया गया, जहां केंद्र के द्वारा कछुवे की ही गती से ही सही अपना कार्य पूर्ण दिया गया था।लेकिन राज्य सरकार की उदासीनता के कारण यह आज तक अधूरा पड़ा है।लेकिन अब बहुत जल्द इसका निर्माण कार्य देखने को मिल सकता है।

चार करोड़ की लागत से 2018 में तैयार हुआ पुल

दरअसल, आरओबी रेलवे को बनाना था और संपर्क पथ राज्य सरकार को। रेलवे ने लगभग चार करोड़ की लागत से 2015 में पुल का निर्माण कार्य प्रारंभ किया। इसके तहत विभाग द्वारा दोनों ट्रैक के क्रॉसिग पर पाये का निर्माण कर दिया गया। वर्ष 2018 के अंत में रेल विभाग ने दोनों पटरियों के ऊपर पुल का निर्माण कार्य भी पूरा कर लिया। निर्माण के तीन वर्ष बीत गए, लेकिन पहुंच पथ  का निर्माण शुरू नही होने से लोगों की परेशानी आज भी ज्यो की त्यों ही है।लेकिन बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लिमिटेड के द्वारा इस पर पहुंच पथ बनाने को ले गम्भीर दिखाई दे रही है।जिससे बहुत जल्द लोगो को समस्या से निजात मिल सकता है।

समाज सेवी व राजनीतिक दल भी आये आगे

बता दे कि 2015 में लोगो की समस्या को देखते हुए ओवरब्रिज का निर्माण कार्य 2018 मे ही अधूरा बन्द कर दिया गया।जिसको पुरा कराने के लिए बक्सर के आरटीआई कार्यकर्ता जगजीत भट्ट द्वारा सरकार व प्रशासन को आधा दर्जन से ऊपर पत्र लिख लोगों की सहूलियत के लिए पहुंच पथ निर्माण कार्य शुरू कराने का प्रयास किया गया।वंही राजद द्वारा भी इस अधूरे पुल के पास धरना प्रदर्शन कर वर्तमान सरकार     पर निशाना साधने के साथ लोगो की समस्या को उठाने का कार्य किया गया था।

बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लिमिटेड परियोजना अभियंता आलोक शरण द्वारा बताया गया कि प्राक्कलन तैयार कर विभाग को भेजा गया था। जिसकी स्वीकृति मिल चुकी हैं। प्रक्रिया टेंडर में है। टेंडर पास होते ही निर्माण कार्य शुरू कराया जाएगा। निर्माण के लिए भूमि अधिग्रहण कर पहुंच पथ को समयावधि में पूर्ण कर लोगो के लिए खोल दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button